Thursday , July 19 2018

जोधपुर समागम 23 मार्च 2015

(पुनश्च, पुनश्च, पुनश्च ! जब तक हर मित्र न पढ़ ले ! शायद सभी का मन बन जाए ! )इस सूची में शामिल सभी मित्रों से प्रेमपूर्वक आग्रह,जोधपुर में 23 मार्च को अपने अभिनव राजस्थान अभियान के समागम में पधारें.शहीद भगत सिंह को समर्पित इस समागम से राजस्थान में जागरूकता …

विस्तार से पढ़े»

राजस्थान से बाहर जा रही है पूँजी – wealth drain

राजस्थान से बाहर जा रहे हैं, पूँजी, व्यापारी, कारीगर, खनिज, फसलें. और राजस्थान जीमने में व्यस्त है, साफे बाँधने में व्यस्त है. वोट देने में व्यस्त है. विकास किस चिड़िया का नाम है ? नहीं पता. हम अभिनव राजस्थान में बताएँगे. सुबह उठने से लेकर सोने तक हम जिन चीजों …

विस्तार से पढ़े»

धरातल पर उतारो लोकतंत्र को

अपना जिला संभालो, प्रदेश और देश अपने आप संभल जाएगा. मात्र 33 इकाईयां प्रदेश में और 640 इकाईयां हैं देश में. एक जिले में दस से पन्द्रह सजग मित्रों की जरूरत होगी. कैसे काम करेगा यह मोनिटरिंग सिस्टम ? अप्रैल 2015 से, बहुत ही सरलता से.एक आवेदन सूचना के अधिकार …

विस्तार से पढ़े»

अपना बजट यानि अपना, खुद का

अभिनव राजस्थान का बजट कैसा होगा ? बहुत छोटा, बहुत सटीक. वर्तमान सारी योजनाएं बंद ! ये useless हैं, हमारा पैसा (जी, यह बजट में पैसा हमारा ही है) और समय बर्बाद करने से ज्यादा इनमें कुछ नहीं है.सबसे पहले बताया जाएगा कि राजस्थान में खेती और छोटे उद्योग का …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव शिक्षा में मेट्रिक छात्र को कितना ज्ञान होना चाहिए ?

अभिनव राजस्थान की अभिनव शिक्षा, अभिनव राजस्थान में एक दसवीं पास विद्यार्थी को कितना ज्ञान होगा ?1.    उसे यह पता होगा कि भारत और राजस्थान में शासन जनता का है और यह उसके जैसे परिवारों द्वारा दिए गए टेक्स से चलता है. उसे मालूम होगा कि जब वह बाजार से …

विस्तार से पढ़े»

असली लोकतंत्र के लिए महत्त्वपूर्ण मुद्दों पर सर्वे और चर्चा व्यापक स्तर पर हों.

भूमि अधिग्रहण हो, नरेगा हो या मिड डे मील, सभी मुद्दों पर व्यापक सर्वे और चर्चा होनी चाहिए, संसद के भीतर ही नहीं, संसद के बाहर भी. तभी लोकतंत्र मजबूत होगा, निर्णय जनहित में, जनसमर्थन से होंगे. एक समय तय हो जाए. दो महीने, तीन महीने. ज्यादा लंबा समय न …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव राजस्थान का रोडमेप

A  clear cut Road Map of Abhinav Rajasthan Abhiyan, (a must read for our active frineds) अभिनव राजस्थान की डगर का नक्शा- एकदम साफ़. (कई मित्र सोचते हैं की यह सब कैसे होगा !) इस हफ्ते राजस्थान और भारत के शासन एक साल के लिए अपना प्लान (बजट) घोषित करने …

विस्तार से पढ़े»

राजस्थान के बिजली तंत्र में फॉल्ट कहाँ हैं ?

राजस्थान में बिजली कंपनियों के घाटे का कड़वा सच. सरल शब्दों में. संक्षेप में. (श्वेत पत्र) सूचना के अधिकार से हमारे द्वारा खंगाले गए कुछ कागजातों के आधार पर. व्यवस्था सुधरे तो बिजली की दरें बढ़ाने की बजाय बहुत कम की जा सकती हैं ! वर्ष 2000 में विश्व बैंक …

विस्तार से पढ़े»

मिड डे मील और आंगनवाड़ी व्यवस्था,एकदम बकवास, निरुद्देश्य और सरकारी पैसे की बर्बादी.

अभिनव राजस्थान में यह सब नहीं होगा. आंगनवाड़ी क्यों ? बच्चों में पोषण की कमी को दूर करने के लिए, क्योंकि आंकडों के हिसाब से भारत के अधिकतर बच्चे कुपोषित हैं. और सरकार उस कुपोषण को अपने स्तर पर दूर करके रहेगी ! माँ बाप के भरोसे यह जिम्मेदारी अब …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव राजस्थान की नई संभागीय व्यवस्था

अभिनव राजस्थान में 11 संभाग (division) होंगे. 33 अनुभाग (district) होंगे. जिले को अनुभाग कहना ज्यादा तर्कसंगत, सार्थक, लोकतंत्रात्मक होगा. यह प्रशासनिक विभाजन प्रबंध, भूगोल और संस्कृति की दृष्टि से उपयुक्त होगा. 1. Jaipur – Tonk  (Dhoondhar) 2. Bharatpur- Alwar- Dausa (Braj) 3. Swai Madhopur- Karauli-Dholpur (Dang) 4. Kota-Bundi-Baran-Jhalawar (Hadauti) …

विस्तार से पढ़े»