Wednesday , April 8 2020

जागो! सवेरा कब का हो चुका है

जश्न में जोश नहीं              15अगस्त और 26जनवरी के उत्सवों में अब आम जनता की रुचि लगभग समाप्त सी हो गयी है। अब यह उत्सव मनाने का ‘काम’ स्कूलों और फ़ौजियों-पुलिसवालों को सौंप दिया गया है। उनके लिए भी यह ‘उत्सव’ न होकर ‘काम’ हो गया है। शेष बचे कर्मचारियों …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव शिक्षा में पाठ्यक्रम

मूल विषय  समाज के लिए आवश्यक ज्ञान के सृजन के लिए किसी भी काल में निम्न पांच मूल प्रश्नों पर ध्यान देना होता है – १. समाज की वर्तमान एवं भविष्य की आवश्यकताओं के लिए कैसे ज्ञान का सृजन हो? २. शिक्षा केन्द्रों की रचना कैसी हो? ३. शिक्षकों की …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव राजस्थान

अवतारवाद से जनजागरण की ओर,                                    जनजागरण से स्वशासन की ओर,                                                                     स्वशासन से वास्तविक विकास की ओर हमारे लक्ष्य  1. राजस्थान को भारत का सबसे समृद्ध प्रदेश बनाना। 2. भारत को विश्व की प्रमुख ताकत बनाना। हमारे उद्देश्य  1. राजस्थान के कृषि एवं उद्योग के उत्पादन को बढ़ाना,                                         …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव समाज

हमारे लक्ष्य 1. पाँच वर्षों में राजस्थान में पूँजी निर्माण को दस गुना बढ़ाना। 2. सामाजिक जिम्मेदारियों की चिंता कम कर आनंद का माहौल बनाना। हमारे उद्देश्य 1. राजस्थान में बचत को बढ़ाकर पूँजी निर्माण की गति बढ़ाना,                                                  सामाजिक परम्पराओं के नाम पर अनावश्यक खर्चों को कम करके। 2. …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव उद्योग

हमारे लक्ष्य 1. राजस्थान के औद्योगिक उत्पादन को पाँच वर्षों में दुगना करना। 2. प्रदेश के कस्बों एवं गांवों के निवासियों की आमदनी को पाँच वर्षों में पाँच गुना बढ़ाना। हमारे उद्देश्य 1. राजस्थान में उत्पादन बढ़ा कर यहाँ के नागरिकों की आमदनी बढ़ाना,        ताकि वास्तविक विकास से …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव शिक्षा

हमारे लक्ष्य 1.         राजस्थान के प्रत्येक नागरिक को उच्चतम शिक्षा का अवसर देना। 2.         राष्ट्र निर्माण की लहर राजस्थान और भारत में पैदा करना।   हमारे उद्देश्य 1          समाज के लिए आवश्यक ज्ञान का सृजन करना,                            सार्थक शिक्षा से सामाजिक-आर्थिक विकास को गति देना। 2.         सृजित ज्ञान के उपयोग …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव संस्कृति

हमारे लक्ष्य 1 भारत के सांस्कृतिक मूल्यों का पुनर्स्थापन। 2 प्रदेश की संस्कृति के रंग में प्रत्येक नागरिक को रंगना। हमारे उद्देश्य  1 राजस्थान के नागरिकों के जीवन को आनंद से भरना, क्योंकि संस्कारों के अभाव से जीवन निराशा और चिंता की भेंट चढ़ गया है। 2 आर्थिक विकास को …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव प्रकृति

हमारे लक्ष्य  1.        पाँच वर्षों में पाँच करोड़ पौधों का वास्तविक रोपण।2.        प्रदेश की पहाड़ियों, नदियों, झीलों एवं तालाबों को 50 प्रतिशत तक मौलिक स्वरूप में लेकर आना। हमारे उद्देश्य  1          स्थाई एवं सुन्दर विकास का मार्ग प्रशस्त करना,                                     प्राकृतिक संसाधनों के न्यायोचित उपयोग से। 2.                  उत्पादन की लागत …

विस्तार से पढ़े»

अभिनव शासन

हमारे लक्ष्य  1. पाँच वर्षों में राजस्थान को भारत का श्रेष्ठ शासित प्रदेश बनाना। 2. प्रदेश के कोने-कोने को विकास की मुख्य धारा में शामिल करना।   हमारे उद्देश्य   1.  जनता में स्वशासन का भाव जाग्रत करना,                        जन जागरण से लोकतंत्र का असली मतलब समझाना। 2. कर्मचारियों में सेवा …

विस्तार से पढ़े»